Havana Syndrome: हवाना सिंड्रोम क्या है, और इसके लक्षण और कारण क्या हैं?

Havana Syndrome Kya Hai
For illustration purposes only

हाल ही में सीआईए के निदेशक विलियम बर्न्स के साथ भारत आए सीआईए अधिकारी अब बीमार पड़ गए हैं। न्यूयॉर्क टाइम्स और सीएनएन के मुताबिक, उनमें हवाना सिंड्रोम से मिलते जुलते लक्षण पाए गए हैं। 

यह पहली बार नहीं है, अभी पिछले महीने ही दो शीर्ष अमेरिकी अधिकारियों पर हवाना सिंड्रोम के लक्षण बताए गए थे, जिसके कारण उपराष्ट्रपति कमला हैरिस को पिछले महीने वियतनाम की अपनी यात्रा स्थगित करनी पड़ी थी। 

आखिर यह हवाना सिंड्रोम क्या है, हवाना सिंड्रोम के लक्षण क्या हैं, जो आज भी पहेली बना हुआ है, आइए जानते हैं।

हवाना सिंड्रोम (Havana Syndrome) क्या है और इसका पता कब चला। | Havana Syndrome in Hindi

करीब आज से पांच साल पहले 2016 में क्यूबा की राजधानी हवाना में अमेरिकी दूतावास में तैनात अधिकारी अचानक बीमार पड़ने लगे, उन मरीजों ने सिरदर्द, चक्कर आना, मतली और ध्यान केंद्रित करने में कठिनाई होने जैसी परेशानियां बताई, कुछ ने बीमार पड़ने से पहले अपने कमरों में अजीब आवाजें और भनभनाहट या तेज आवाज भी सुनी थी. इस रहस्यमयी बीमारी का नाम हवाना सिंड्रोम रखा गया।

पहले इस बात को गुप्त रखा गया था क्योंकि शुरुआती मामलों में अमेरिकी खुफिया एजेंसी सीआईए के कुछ अधिकारी भी शामिल थे। लेकिन कुछ समय बाद यह बात फैल गई क्योंकि क्यूबा में दो दर्जन से अधिक अमेरिकी राजनयिकों और उनके परिवारों, कुछ चीनी और 14 कनाडाई नागरिकों में भी इसी तरह के लक्षण थे।

हवाना सिंड्रोम के लक्षण क्या हैं?

तीव्र लक्षण

  • तेज आवाज सुनाई देना और कानों में दर्द
  • सुनने में परेशानी
  • सिर के अंदर तीव्र दबाव या कंपन
  • स्मृति या एकाग्रता में कठिनाई
  • देखने मे परेशानी
  • जी मिचलाना और चक्कर आना

लंबे समय तक रहने वाले लक्षण

  • एकाग्रता में कमी
  • स्मरण शक्ति की क्षति
  • बैलेंस बिगड़ना
  • नींद ना आना (अनिद्रा)
  • सिरदर्द
  • डिप्रेशन

हवाना सिंड्रोम के मामले कहाँ-कहाँ पाए गए हैं?

अमेरिकी मीडिया रिपोर्टों के अनुसार, रूस, ऑस्ट्रेलिया, ताइवान, ऑस्ट्रिया, पोलैंड, उज्बेकिस्तान, किर्गिस्तान, कोलंबिया, जॉर्जिया, वियतनाम और अन्य सहित पिछले कुछ वर्षों में दुनिया भर में लगभग 130 एसे मामले सामने आए हैं। 

हाल ही में सीआईडी ​​निदेशक के साथ भारत आया एक सीआईडी ​​अधिकारी अब बीमार हो गया है। अभी इससे पिछले महीने ही, उप राष्ट्रपति कमला हैरिस को वियतनाम की अपनी यात्रा में तीन घंटे की देरी करनी पड़ी थी, जब वियतनाम में अमेरिकी अधिकारी ने हवाना सिंड्रोम के लक्षणों की सूचना दी थी।

हवाना सिंड्रोम के कारण (Causes of Havana Syndrome in Hindi)

स्पष्ट कहा जाए तो इसका सही कारण अभी तक कोई नहीं जानता, लेकिन इसको लेकर कई कयाश लगाए गए है।

शुरुआत में यह अनुमान लगाया गया था कि इसके पीछे क्यूबा की खुफिया एजेंसी हो सकती है क्योंकि अमेरिका और क्यूबा के बीच संबंध पहले से ही बहुत खराब रहे हैं।

अभी तक इस रहस्यमय बीमारी के सटीक कारण पर कोई विशेषज्ञ सहमत नहीं है, नेशनल एकेडमी ऑफ साइंसेज, इंजीनियरिंग और मेडिसिन की विशेषज्ञ समिति ने दिसंबर 2020 में निष्कर्ष निकाला कि यह रोग “माइक्रोवेव एनर्जी (‘डायरेक्टेड स्पंदित रेडियो फ्रीक्वेंसी एनर्जी’) से संबंधित हो सकता है।

अमेरिकी अधिकारियों पर माइक्रोवेव हथियार के इस्तेमाल को लेकर तरह-तरह की अटकलें लगाई गई हैं। लेकिन सटीक कारण ज्ञात नहीं होने के कारण, बिडेन प्रशासन ने इस रहस्यमय बीमारी को “unexplaned हेल्थ इंसिडेंट्स” (यूएचआई) कहना शुरू कर दिया है।

इस रहस्यमयी बीमारी के बारे में अमेरिकी खुफिया एजेंसी का क्या कहना है?

हवाना सिंड्रोम के कारणों के बारे में अमेरिकी खुफिया एजेंसियों के बीच कोई आम सहमति नहीं है, हालांकि कुछ अमेरिकी अधिकारियों का मानना ​​है कि इसके पीछे रूसी खुफिया एजेंसी का हाथ हो सकता है।

लगातार पूछे जाने वाले प्रश्न

इस रहस्यमयी बीमारी का नाम हवाना सिंड्रोम क्यों पड़ा?

इस बीमारी के लक्षण सबसे पहले क्यूबा की राजधानी हवाना में अमेरिकी दूतावास में तैनात अमेरिकी अधिकारी पर देखे गए थे, क्योंकि इस बीमारी का पता सबसे पहले क्यूबा की राजधानी हवाना में लगा था, इसलिए इस रहस्यमयी बीमारी का नाम हवाना सिंड्रोम रखा गया।

हवाना सिंड्रोम के लक्षण

अजीब चहकने वाली आवाजें सुनना, सिरदर्द, सुनने की क्षमता कम होना, याददाश्त कम होना और जी मिचलाना।

1 thought on “Havana Syndrome: हवाना सिंड्रोम क्या है, और इसके लक्षण और कारण क्या हैं?”

Leave a Comment